बरसीम एवं लूसर्न के लिए खरपतवार प्रबंधन

बरसीम एवं लूसर्न हरे, रसदार एवं स्वादिष्ट चारे के लिए रबी (शीत ऋतु) में सिंचित क्षेत्रों की महत्वपूर्ण फसलें हैं। ये फसलें वायुमंडलीय नाइट्रोजन का भूमि में स्थिरीकरण करके भूमि…

Read more »

सरसों के रोग नियंत्रण और कीट नियंत्रण

रबी फसलों में गेहूं व सरसों उत्तर प्रदेश की कहस फसलें हैं| प्रदेश में सरसों की बोआई और गेहूं की अगेती प्रजातियों की बोआई हो चुकी है व पछेती प्रजातियों…

Read more »

सूरजमुखी की खेती

सूरजमुखी की खेती खरीफ, रबी, एवं जायद तीनो ही मौसम में की जा सकती है, लेकिन खरीफ में इस पर अनेक रोगों एवं कीटो का प्रकोप होने के कारण फूल…

Read more »

गेहूं के ब्लास्ट रोग की रोकथाम

ब्राजील से शुरू होकर गेहूं का ब्लास्ट रोग लगभग पूरे विश्व में फैल चुका है। इसमें गेहूं की बालियां दाने पड़ने से पहले ही सूख जाती हैं और उपज में…

Read more »

मक्के में लगने वाले कीट व रोगों तथा उपचार

मक्का खरीफ ऋतु की फसल है, परन्तु जहां सिचाई के साधन हैं वहां रबी और खरीफ की अगेती फसल के रूप मे ली जा सकती है। मक्का कार्बोहाइड्रेट का बहुत…

Read more »

तुलसी की वैज्ञानिक खेती

तुलसी की ओसिमम प्रजाति को तेल उत्पादन के लिए उगाया जाता है। तुलसी की इस प्रजाति की भारत में बड़े पैमाने पर खेती होती है। उत्तर प्रदेश में बरेली, बादयूं,…

Read more »

झुलसा रोग का प्रकोप

झुलसा रोग (blight) का प्रकोप अनेक फसलों पर होता है, जैसे धान, जौ, कपास, आलू, बैगन आदि। धान का झुलसा इसके लक्षण पत्तियों, बाली की गर्दन एंव तने की निचली…

Read more »

अमरूद की खेती में कीट नियंत्रण और फलों की तुड़ाई और उपज

अमरूद को अंग्रेजी में ग्वावा कहते हैं। वानस्पतिक नाम सीडियम ग्वायवा, प्रजाति सीडियम, जाति ग्वायवा, कुल मिटसी)।वैज्ञानिकों का विचार है कि अमरूद की उत्पति अमरीका के उष्ण कटिबंधीय भाग तथा…

Read more »

खीरा की खेती के लिए उन्नत जातियाँ और भूमि एवं जलवायु

खीरा (cucumber ; वैज्ञानिक नाम: Cucumis sativus) ज़ायद की एक प्रमुख फसल है। सलाद के रूप में सम्पूर्ण विश्व में खीरा का विशेष महत्त्व है। खीरा को सलाद के अतिरिक्त…

Read more »

तरबूज का खेती व प्रयोग

तरबूज़ ग्रीष्म ऋतु का फल है। यह बाहर से हरे रंग के होते हैं, परन्तु अंदर से लाल और पानी से भरपूर व मीठे होते हैं। इनकी फ़सल आमतौर पर…

Read more »
Don`t copy text!