कलिंग युद्ध, कारण और परिणाम

अशोक के तेरहवें अभिलेख के अनुसार उसने अपने राज्याभिषेक के आठ वर्ष बाद कलिंग युद्ध लड़ा। कलिंग विजय उसकी आखिरी विजय थी। यह युद्ध 262-261 ईपू मे लड़ा गया। अशोक…

Read more »

भारतीय दण्ड संहिता अध्याय 14 से 18

अध्याय 14 लोक स्वास्थ्य, सुरक्षा, सुविधा आदि से सम्बन्धित अपराध धारा 268 लोक न्यूसेन्स धारा 269 उपेक्षापूर्ण कार्य जिससे जीवन के लिए संकटपूर्ण रोग का संक्रम फैलना संभाव्य हो धारा…

Read more »

हिन्दी व्याकरण, समास भाग -6

समास दो शब्द आपस में मिलकर एक समस्त पद की रचना करते हैं। जैसे-राज+पुत्र = राजपुत्र, छोटे+बड़े = छोटे-बड़े आदि समास छ: होते हैं: द्वन्द, द्विगु, तत्पुरुष, कर्मधारय, अव्ययीभाव और…

Read more »

पर्यावरण संरक्षण, समस्या, महत्त्व और पर्यावरण संरक्षण के उपाय

पर्यावरण शब्द परि+आवरण के संयोग से बना है। ‘परि’ का आशय चारों ओर तथा ‘आवरण’ का आशय परिवेश है। दूसरे शब्दों में कहें तो पर्यावरण अर्थात वनस्पतियों ,प्राणियों,और मानव जाति…

Read more »

ऊर्जा क्या है ? ऊर्जा के प्रकार एवं मात्रक सहित विस्तृत वर्णन

भौतिकी में, ऊर्जा वस्तुओं का एक गुण है, जो अन्य वस्तुओं को स्थानांतरित किया जा सकता है या विभिन्न रूपों में रूपांतरित किया जा सकता हैं। किसी भी कार्यकर्ता के…

Read more »

अफ्रीका का सबसे बड़ा कालाहारी रेगिस्तान

कालाहारी विश्व का एक विशाल मरूस्‍थल है। कालाहारी मरुस्थल का क्षेत्र दक्षिणवर्ती अफ़्रीका के बोत्सवाना, नामीबिया तथा दक्षिण अफ़्रीका देशों की सीमा में लगभग 9 लाख वर्गकिलोमीटर में विस्तृत है।…

Read more »

सिकन्दर और पंजाब के राजा पोरस के बीच हाइडेस्पीज का युद्ध

झेलम नदी के किनारे सिकंदर को पंजाब के राजा पोरस का सामना करना पड़ा। सिकंदर ने पोरस को पराजित कर दिया, मगर उसके साहस से प्रभावित होकर उस का राज्य…

Read more »

राइबोसोम के मुख्य कार्य एवं इसके खोजकर्ता

राइबोसोम सजीव कोशिका के कोशिका द्रव में स्थित बहुत ही सूक्ष्म कण हैं, जिनकी प्रोटीनों के संश्लेषण में महत्त्वपूर्ण भूमिका है। ये आनुवांशिक पदार्थों (डीएनए या आरएनए) के संकेतों को…

Read more »

वनों का वितरण, वर्गीकरण, प्रबंधन और महत्व

एक क्षेत्र जहाँ वृक्षों का घनत्व अत्यधिक रहता है उसे वन कहते हैं। जंगल की कई परिभाषाएँ हैं, जो कि विभिन्न मापदंडों पर आधारित हैं। वनों ने पृथ्वी के लगभग…

Read more »

महमूद गजनवी और उसका सामरिक विवरण

महमूद ग़ज़नवी (971-1030) मध्य अफ़ग़ानिस्तान में केन्द्रित गज़नवी वंश का एक महत्वपूर्ण शासक था जो पूर्वी ईरान भूमि में साम्राज्य विस्तार के लिए जाना जाता है। वह तुर्क मूल का…

Read more »
Don`t copy text!