नाभिकीय भट्ठी के उपयोग

परमाणु भट्ठी या ‘न्यूक्लियर रिएक्टर’ (nuclear reactor) वह युक्ति है जिसके अन्दर नाभिकीय शृंखला अभिक्रियाएँ आरम्भ की जाती हैं तथा उन्हें नियंत्रित करते हुए जारी रखा जाता है!

नाभिकीय भट्ठी के उपयोग

विद्युत उत्पादन के लिये
कुछ जलयानों को चलाने के लिये शक्ति प्रदान करने के लिये
अनुसन्धान के लिये
नाभिकीय पनडुब्बियों के लिये।

वर्गीकरण

परमाणु भट्ठियाँ कई तरह की डिजाइन की जातीं हैं। उन्हें अलग-अलग प्रकार से वर्गीकृत किया जाता है-

नाभिकीय अभिक्रिया के आधार पर
(१) थर्मल रिएक्टर – इसमें नाभिकीय ऊर्जा में भाग लेने वाले न्यूट्रॉन ‘थर्मल न्यूट्रॉन’ होते हैं।
(२) तीव्र रिएक्टर — इसमें तीव्र न्यूट्रॉन नाभिकीय ऊर्जा में भाग लेते हैं।
विमन्दक के अनुसार
भारी जल से विमन्दित भट्ठियाँ
साधारण जल से विमन्दित भट्ठियाँ
ग्रेफाइट से विमन्दित भट्ठियाँ
पिघले हुए लवणों से विमन्दित भट्ठियाँ
द्रवित धातुओं (जैसे द्रवित सीसा और बिस्मथ का मिश्रण) द्वारा विमन्दित भट्ठियाँ
कार्बनिक लवणों (जैसे biphenyl और terphenyl ) से विमन्दित भट्ठियाँं
शीतलक के अनुसार
जल से शीतित
उबलते हुए जल से शीतित
दाबित भारी जल से शीतित
‘पूल’ टाइप रिएक्टर
द्रवित धातु (जैसे द्रवित सोडियम या सीसा) से शीतित तीव्र रिएक्टर
गैस (जैसे हिलियम) द्वारा शीतित रिएक्टर
पिघले हुए लवणों द्वारा शीतित भट्ठियाँ
पीढ़ी के अनुसार
प्रथम पीढ़ी के रिएक्टर
द्वितीय पीढ़ी के रिएक्टर
तृतीय पीढ़ी के रिएक्टर
चतुर्थ पीढ़ी के रिएक्टर
ईंधन के प्रावस्था के अनुसार
ठोस ईंधन वाले
द्रव ईंधन वाले
गैसीय ईंधन वाले
कोर के आकार के अनुसार
घनाकार
बेलनाकार
अष्टभुजाकार
गोलाकार
स्लैब
एनुलस
उपयोग के अनुसार
विद्युत उत्पादक रिएक्टर
नोदन के लिए प्रयुक्त रिएक्टर
विलवणीकरण के लिए प्रयुक्त रिएक्टर
तत्वान्तरण के लिए प्रयुक्त रिएक्टर
न्यूट्रॉन विकिरण उत्पादक रिएक्टर
अनुसन्धान रिएक्टर

Leave a Comment